Railway के 90 हजार पदों पर आवेदन करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी

Sharing it

Railway के 90 हजार पदों पर आवेदन करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी

नई दिल्ली : अगर आपने पिछले दिनों रेलवे रिक्रटमेंट बोर्ड (INDIAN RAILWAY) की तरफ से घोषित की गई 90 हजार रिक्तियों के लिए आवेदन किया है तो यह खबर आपके लिए है. इन भर्तियों के संबंध में रेलवे की तरफ से नई प्लानिंग की जा रही है, इसे पढ़कर आपको अच्छा लगेगा. दरअसल इंडियन रेलवे की तरफ से निकाली गई करीब 90 हजार रिक्तियों के लिए रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड (RRB) को 2.36 करोड़ आवेदन मिले हैं. इतनी बड़ी संख्या में आवेदन मिलने के बाद यह चर्चा का विषय बना हुआ है.

सबसे बड़ी रिक्रूटमेंट ड्राइव
यह रेलवे की सबसे बड़ी रिक्रूटमेंट ड्राइव है. इन पदों के लिए आयोजित होने वाली परीक्षा में 100 प्रश्न पूछे जाएंगे. अब खबर है कि रेलवे इस भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरा करने की प्लानिंग कर रही है. रेलवे की प्लानिंग है कि परीक्षा के स्टेप को साल के अंत तक कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) के माध्यम से पूरा करा लिया जाए. गत वर्ष 18 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने के लिए रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड को डेढ़ साल से भी ज्यादा का समय लगा था. इसके लिए 92 लाख लोगों ने आवेदन किया था.

प्रोसेस दिसंबर तक पूरा करने की कोशिश
रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि भर्ती प्रक्रिया से जुड़ा प्रोसेस नवंबर-दिसंबर तक पूरा करने की कोशिश है. ऐसा होने पर अंतिम रूप से चयनित उम्मीदवार अगले साल शुरुआत में ज्वाइन कर पाएंगे. भर्ती प्रक्रिया जल्दी पूरा होने के दो फायदे होंगे. पहला तो संबंधित पदों पर आवेदन करने वाले लोगों को प्रोसेस पूरा होने के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा. दूसरा यह कि रेलवे में कम स्टॉफ के कारण होने वाली समस्या नहीं होगी.

पहले उम्मीद जताई जा रही थी कि रेलवे बोर्ड को भर्ती प्रक्रिया पूरा करने में दो साल का समय लग सकता है. भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के लिए रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्विनी लोहानी के निर्देशन में 40 अधिकारियों की टीम दिन-रात काम कर रही है. उम्मीद है कि रिक्तियों से जुड़ी लिखित परीक्षा जुलाई के मध्य में देशभर में 500 सेंटर पर शुरू हो सकती है. अन्य कार्यों के लिए रेलवे बोर्ड अन्य सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क कर सकता है.

ऐसे होगा प्रश्नपत्र
रेलवे की भर्ती परीक्षा के लिए आयोजित होने वाले एग्जाम में कुल 100 प्रश्न होंगे. ये प्रश्न मैथमेटिक्स, जनरल इंटेलीजेंस, रीजनिंग, जनरल साइंस और जनरल अवेयरनेस से जुड़े होंगे. 15 भाषाओं में आयोजित होने वाली परीक्षा के लिए 500 परीक्षा केंद्रों पर एक लाख से डेढ़ लाख कंप्यूटर का प्रयोग किया जाएगा. एक रेलवे अधिकारी ने बताया कि किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो इसके लिए हम तकनीकी पहलुओं पर चर्चा कर रहे हैं.

आपको बता दें कि रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड को असिस्टेंट लोको पायलेट और टेक्निशियन के 26,502 रिक्त पदों के लिए करीब 48 लाख आवेदन मिले थे. वहीं ग्रुप डी के 62,907 पदों के लिए बोर्ड को 1.9 करोड़ आवेदन प्राप्त हुए थे. ग्रुप सी के पदों पर चयन के लिए इंटरव्यू का आयोजन नहीं किया जाएगा. लिखित परीक्षा और साइकोलॉजी टेस्ट के आधार पर उम्मीदवार को चयनित किया जाएगा. इसी तरह लेवल-1 के ग्रुप डी पदों के लिए लिखित परीक्षा और शारीरिक दक्षता परीक्षा होगी.