CWG 2018: मुक्केबाजी, निशानेबाजी में भारत ने जीता सोना

cwg 2018 india at commonwealth games day 10 live updates
 नई दिल्ली । कॉमनवेल्थ गेम्स में शनिवार को खेल के10वें दिन भारतीय खिलाड़ियों ने सुनहरा प्रदर्शन करते हुए भारत की झोली में अब तक 6 गोल्ड मेडल सहित कुल 8 मेडल डाल दिए हैं। बॉक्सिंग में एमसी मैरी कॉम, गौरव सोलंकी, शूटिंग में संजीव राजपूत और भाला फेंक में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मेडल जीते। भारत के सुमित ( 125 किलो ) ने राष्ट्रमंडल खेलों में पुरूषों की फ्रीस्टाइल स्पर्धा में वॉकओवर मिलने के बाद गोल्ड मेडल जीता। पहलवान विनेश फोगाट में महिलाओं की 50 किलो फ्रीस्टाइल मुकाबले में गोल्ड जीता।

बॉक्सिंग के45-48 किलो कैटिगरी में मैरी कॉम ने नॉर्दर्न आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को हराकर भारत को गोल्ड मेडल दिलाया। मैरी पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा ले रही थीं, जबकि 52 किलो कैटिगरी में गौरव ने नॉर्दर्न आयरलैंड के ब्रेंडन इर्विन को 4-1 से हराया। शूटर संजीव राजपूत ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशंस में मेडल जीता।

नीरज बने पहले भारतीय ऐथलीट
नीरज चोपड़ा ने कॉमनवेल्थ गेम्स की भाला फेंक स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय बन गए। उन्होंने फाइनल में सत्र का सर्वश्रेष्ठ 86.47 मीटर का थ्रो फेंका। जूनियर विश्व चैंपियन 20 साल के नीरज ने शुक्रवार को पहले ही थ्रो में क्वॉलिफाइंग आंकड़े को छूकर फाइनल में जगह बनाई थी। पिछले महीने पटियाला में फेडरेशन कप राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में 85.94 मीटर का थ्रो फेंककर उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था।

ओलिंपिक और वर्ल्ड सिल्वर मेडलिस्ट कीनिया के जूलियस येगो फाइनल के लिए क्वॉलिफाइ नहीं कर सके थे। वहीं 2012 ओलिंपिक चैंपियन और रियो खेलों के ब्रॉन्ज मेडल विजेता केशोर्न वॉलकॉट ने इन खेलों में भाग नहीं लिया।

मुक्केबाजी मैरी कॉम , गौरव सोलंकी ने मुक्केबाजी रिंग में सोना जीता
पांच बार की विश्व चैम्पियन और ओलिंपिक ब्रॉन्ज मेडल विजेता एमसी मैरी कॉम (48 किलो) कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला मुक्केबाजी में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय हो गईं जबकि गौरव सोलंकी (52 किलो) ने भी पीला तमगा अपने नाम किया। अमित पंघाल (49 किलो) और मनीष कौशिक (60 किलो) को रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

पहली और संभवत: आखिरी बार राष्ट्रमंडल खेलों में भाग ले रही 35 बरस की मैरी कॉम ने महिलाओं के 48 किलो फाइनल में उत्तरी आयरलैंड की क्रिस्टीना ओहारा को 5-0 से हराया। ओहारा के पास मैरी कॉम के दमदार पंच और फिटनेस का जवाब नहीं था। मैरी कॉम ने मुकाबले को लगभग एकतरफा बना दिया।

पुरुष वर्ग में सोलंकी ने उत्तरी आयरलैंड के ब्रेंडन इरविन को 4-1 से हराया। वह तीसरा दौर हार गए थे लेकिन पहले दो दौर में प्रदर्शन इतना अच्छा रहा कि अपने पदार्पण खेलों में ही उन्होंने स्वर्ण जीत लिया।  अमित और मनीष दोनों बंटे हुए फैसले पर हार गए। अमित को इंग्लैंड के गालाल याफाइ ने हराया। वहीं मनीष को ऑस्ट्रेलिया के हैरी गारसाइड ने 3- 2 से मात दी।

साइना-सिंधु में फाइनल
21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय शटलरों का जलवा जारी है। पीवी सिंधु और साइना नेहवाल ने महिला एकल वर्ग के अपने-अपने सेमीफाइनल मुकाबलों में जीत दर्ज करते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया है। इसका मतलब है कि गोल्ड मेडल मुकाबला इन्हीं दोनों भारतीय शटलरों के बीच खेला जाएगा। जीतने वाले को गोल्ड और हारने वाले को सिल्वर मिलेगा। इस तरह महिला एकल वर्ग के दोनों ही मेडल भारत को मिलना तय है।