छत्तीसगढ़

बलौदा बाजार-भाटापारा : मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से जिले में अब तक 412 जोडों हुए लाभान्वित

बलौदा बाजार-भाटापारा : मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से जिले में अब तक 412 जोडों हुए लाभान्वित

छत्तीसगढ़
बलौदा बाजार, 5 दिसंबर (एनपी)।     निर्धन परिवार के कन्याओं के विवाह में होने वाली आर्थिक कठिनाईयों को दूर करने, फिजूल खर्चों पर रोक लगाने एवं सादगीपूर्वक विवाह को सम्पन्न कराने हेतु शासन द्वारा मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना का संचालन किया जा रहा है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बलौदा बाजार-भाटापारा जिले में वर्ष 2014-15 से अब तक 412 प्रति जोड़ों का विवाह कर कुल 6 लाख 18 हजार रूपये से लाभान्वित किया गया है। इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले परिवार के 18 वर्ष से अधिक आयु की अधिकतम दो कन्याओं का विवाह किया जाता है। हितग्राही को इस योजना में प्रत्येक कन्या का विवाह 15 हजार रूपये में किया जाता है। जिसमें विवाह में होने वाले सभी व्यय शामिल है। विभागीय मैदानी अमले द्वारा गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले हितग्राहियों को चिन्हित कर व
मौसम में आई तब्दीली से मेकाहारा में मरीजों की संख्या में हुआ इजाफा

मौसम में आई तब्दीली से मेकाहारा में मरीजों की संख्या में हुआ इजाफा

छत्तीसगढ़
रायपुर, 05 दिसंबर (एनपी)। मौसम में आई तब्दीली के चलते जहां वातावरण में ठंड का असर धीरे-धीरे बढ़ रहा है। वहीं इसी तब्दीली के चलते रायपुरियंस बीमारी के घेरे में आते जा रहे है। मेकाहारा से प्राप्त सूत्रों के अनुसार इन दिनों सर्दी बुखार मलेरिया वायरल फीवर पेट दर्द एवं उल्टी से ग्रस्त मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। मेकाहारा से मिली जानकारी के अनुसार डा. भीम राव अंबेडकर अस्पताल में प्रतिदिन 16 सौ से अधिक मरीज जांच परीक्षण हेतु ओपीडी में दर्ज हो रहे है। स्थिति ऐसी हो गई है कि जनरल वार्ड मेडिकल वार्ड सहित ट्रामा सेंटर में रोज बढ़ रहे मरीजों को भर्ती करने की समस्या भी आ रही है। उप अधीक्षक के अनुसार आने वाले समय में मरीजों के भर्ती के इंतजाम पर्याप्त मात्रा में कर सभी के मर्ज की बेहतर चिकित्सा किये जाने के इंतजाम तत्काल किये जाएंगे। गौरतलब है कि निजी चिकित्सा संस्थानों में नोट बदली के
मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना : चाईजी ने कहा, ऐसी आनंददायी यात्रा कराने वाले को मिले उनके उपवास का फल

मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना : चाईजी ने कहा, ऐसी आनंददायी यात्रा कराने वाले को मिले उनके उपवास का फल

छत्तीसगढ़
जांजगीर-चांपा, 05 दिसम्बर (एनपी)। जांजगीर-नैला के पुरानी बस्ती की रहने वाली 70 वर्षीय श्रीमती रेखापुरी ने कहा कि उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था, कि कभी गंगासागर की यात्रा करेंगी। अपने मोहल्ले में चाईजी के नाम से जानी जाने वाली श्रीमती पुरी ने बताया कि पिछले वर्ष उन्होंने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के तहत गंगासागर और बिरला मंदिर कालीघाट की यात्रा की है। चाईजी ने कहा कि पड़ासियों के साथ गंगासागर की यात्रा और उसमें डुबकी लगाना अत्यंत आनंददायी था। पूरी यात्रा में कोई परेशानी नहीं हुई, यात्रियों के लिए रहने, खाने-पीने से लेकर हर तरह की बढिय़ां व्यवस्था की गई थी। ट्रेन का सफर बहुत आराम दायी था। इस यात्रा के लिए उन्होंने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके द्वारा जीवन भर किए गए उपवास-बरत का फल यात्रा कराने वाले और बुजुर्गों के लिए ऐसी सुंदर योजना बनाने वाले को मिल जाए। उन्होंने अपनी यात्रा वृत
प्रधानमंत्री उज्जवला योजना : ससुराल में गैस चूल्हा आया, बहुएं खुश बर्तन की कालिख मांजने से मिली मुक्ति

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना : ससुराल में गैस चूल्हा आया, बहुएं खुश बर्तन की कालिख मांजने से मिली मुक्ति

छत्तीसगढ़
जांजगीर-चांपा, 5 दिसम्बर (एनपी)। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत विकासखण्ड नवागढ़ के ग्राम घुरकोट की रहने वाली श्रीमती सुखमनी की बहु घर में गैस चुल्हा आने से बड़ी खुष है। सुखमनी की बहु श्रीमती मंजू देवी गढ़ेवाल ने बताया कि उन्हें गैस चूल्हा खाना बनाना अच्छा लगता है। मंजू ने कहा कि गैस चूल्हे में वह साफ-सुथरे तरीके से मात्र एक घंटे में पूरे परिवार के लिए खाना बना लेती है। उसने कहा कि पहले लकड़ी-छेना में चूल्हा जलाने में ही 15 से 20 मिनट का समय लग जाता था, उसके ऊपर से बार-बार चूल्हा फूंकना पड़ता था, सो अलग। चूल्हा जलाते समय हर रोज धुंए से आंख भी जलती थी और आंसू आ जाते थे।  अब इन समस्याओं से मुक्ति मिल चुकी है। मंजू दोनों बर्नर में दाल-सब्जी एक साथ बन जाता है।  रोटी भी जल्द बन जाती है।श्रीमती सुखमनी ने बताया कि दो-ढाई माह पहले मात्र दो सौ रूपए पंजीयन षुल्क पटाने पर गैस कनेक्षन, डबर बर्नर स
मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना : विवाह सूत्र में ढाई वर्ष पहले बंधे थे भागवत-दीपिका, सुखद गृहस्थ जीवन की साक्षी बनी यह जोड़ी

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना : विवाह सूत्र में ढाई वर्ष पहले बंधे थे भागवत-दीपिका, सुखद गृहस्थ जीवन की साक्षी बनी यह जोड़ी

छत्तीसगढ़
जांजगीर-चांपा, 5 दिसम्बर (एनपी)। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित विवाह समारोह में ढाई वर्ष पहले विकासखण्ड सक्ती के ग्राम लवसरा के भागवत चौहान और दीपिका दाम्पत्य सूत्र में बंधे थे। आज दोनों सुखद गृहस्थ जीवन बिता रहे हैं। श्रीमती दीपिका ने कहा कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना ने उनके जीवन में खुशियां ही खुशियां भर दी है। दीपिका ने कहा कि उन्हें श्री भागवत जैसा अच्छा जीवन साथी और खुषहाल परिवार मिला है। अभी उनका नौ माह का बेटा भी है, जिसका नाम उन्होंने ओम रखा है। दीपिका ने बताया कि सक्ती के परषुराम भवन में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में 108 से अधिक जोड़ों के साथ वैदिक मंत्रोच्चार और विधि-विधान के साथ उनका भी विवाह हुआ था, जो आज भी उन्हें याद है। दीपिका ने बताया विवाह में उन्हें वैवाहिक सामग्री के साथ दैनिक उपयोग की वस्तुएं उपहार में मिली थी। दीपिका और भागवत दोनों ने कहा कि मुख्यमं
प्यार में धोखा खाए युवक ने खाई गोली

प्यार में धोखा खाए युवक ने खाई गोली

छत्तीसगढ़
जगदलपुर, 05 दिसंबर (एनपी)। धरमपुरा में रहने वाले युवक ने प्यार में धोखा खाने और अपनी प्रेेमिका द्वारा नजर अंदाज किए जाने से क्षुब्ध होकर गोलियों का सेवन करके आत्महत्या करने की कोशिश की। जिसके बाद उसके दोस्तों ने उसे बेहतर उपचार के लिए मेकाज लेकर आए जहां बेहतर उपचार के लिए उसे वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि नारायणपुर में रहने वाला शिवनाथ २३ वर्ष जो कि जगदलपुर के धरमपुरा में किसी हास्टल में रहकर पढ़ाई कर रहा था। कि शुक्रवार की देर रात को उसे उल्टियां करते हुए देखा गया जिसके बाद दोस्तों ने उसे उपचार के लिए मेकाज लेकर आए। पूछताछ में युवक ने बताया कि वह किसी युवती से बहुत प्यार करता था और हर जगह उसकी जरूरत में काफी मदद भी किया। लेकिन एकाएक युवती के द्वारा नजरअंदाज किए जाने और उसके प्यार को ना मानने के चलते युवक ने काफी मात्रा में गोलियों का सेवन