सीएम प्रोजेक्ट कर चुनाव लडऩे की जरूरत नहीं, राज्य में कांग्रेस की स्थिति काफी मजबूत : पीएल पुनिया

रायपुर, 20 जुलाई (एनपी)। राज्य में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में निश्चित रूप से कांग्रेस की सरकार बनेगी। पिछले चुनाव का परिणाम देखा जाए तो पराजय का अंतर केवल 0.7 प्रतिशत था। यह कोई बड़ा अंतर नहीं है। पार्टी के सभी नेता और कार्यकर्ता एकजुट है। मैं पूरी तरह से आश्वस्त हूं कि इस बार के चुनाव में कांग्रेस पार्टी की जीत सुनिश्चित है।
उक्त बातें कांग्रेस भवन में आयोजित एक पे्रसवार्ता को संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के नए प्रभारी पीएल पुनिया ने कही। श्री पुनिया ने कहा कि वे इसके पूर्व भी एआईसीसी के निर्देश पर छत्तीसगढ़ आ चुके हैं। लेकिन इस बार उन्हें नई जिम्मेदारी के साथ प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है। उनके सहयोग के लिए अरूण उरांव प्रभारी सचिव और कमलेश पटेल हैं। श्री पुनिया ने कहा कि यहां पीसीसी का प्रदर्शन काफी अच्छा है। उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में पराजय का अंतर काफी कम केवल 0.7 प्रतिशत था, यह कोई बड़ा अंतर नहीं है। इससे समझा जा सकता है कि प्रदेश में कांग्रेस मजबूत स्थिति में है, हम सब मिलकर इसे और मजबूत बनाएंगे और कांग्रेस की सरकार बनाएंगे। पंजाब की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में सीएम चेहरा प्रोजेक्ट करते हुए चुनाव लडऩे के सवाल पर श्री पुनिया ने कहा कि हमें सीएम चेहरा प्रोजेक्ट करने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस एकता के साथ और पूरी मजबूती के साथ विधानसभा चुनाव लड़ेगी और जीतेगी भी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में उन्हें नहीं लगता कि सीएम चेहरा प्रोजेक्ट करते हुए चुनाव लडऩा चाहिए। पूर्व प्रदेश प्रभारी बीके हरिप्रसाद की प्रशंसा करते हुए श्री पुनिया ने कहा कि श्री हरिप्रसाद ने प्रदेश में अच्छा काम किया है।
जो कांग्रेस छोड़कर गए उनकी बात ही नहीं ……
श्री पुनिया ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी से मित्रता और उनके कांग्रेस वापसी के लिए दिल्ली में दिए गए बयान पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि उनके बयान को गलत ढंग से पेश किया गया है। उन्होंने कहा कि जो कांग्रेस के प्रति सच्ची निष्ठा और लगन से काम करता है, पार्टी उसके साथ सदैव रहती है। लेकिन जो पार्टी छोड़कर चले गए हैं, उन्हें वापस लाने या बुलाने का सवाल नहीं उठता। उन्होंने कहा कि मौजूदा टीम काफी बेहतर है और इसी टीम के साथ कांग्रेस चुनाव मैदान में उतरेगी।
शाह ही बता दें 25 सीट कौन जीतेगा …
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा पूर्व में दिए गए एक बयान की प्रदेश के 90 विधानसभा सीटों पर 65 में भाजपा की जीत तय है, का उल्लेख किए जाने पर श्री पुनिया ने बताया कि चुनाव में एक-एक वोट कीमती होता है। ऐसे में प्रदेश के सभी 90 सीटों में से 65 सीटों पर जीत का दावा करना उचित नहीं है। श्री शाह अब यह भी बता दें कि 65 सीटों पर यदि भाजपा जीत जाएगी तो शेष 25 सीटों पर कौन जीतेगा। उन्होंने कहा कि हार या जीत जनता तय करती है। ऐसे में जनादेश के पूर्व या चुनाव के पहले ही यह दावा करना सही नहीं है।