सूद खोर से परेशान युवक लापता, लापता होने से पहले युवक द्वारा लिखा लेटर भी बरामद

अम्बिकापुर, 03 नवंबर (एनपी)। अंबिकापुर में सूदखोरी का मामला सामने आया है इतना ही नहीं मूलधन से ज्यादा रकम अदा करने के बाद भी सूदखोर द्वारा युवक को परेशां किये जाने से व्यथित युवक संदेहास्पद रूप से लापता भी ही गया है। इसके साथ ही युवक द्वारा लिखा गया एक पत्र भी मिला है जिसमे सूदखोरी से परेशां होने की बात साफ़ तौर पर लिखी गई है साथ ही खुद को नुक्सान पहुचाने की भी बात का जिक्र किया गया है। युवक के अचानक लापता हो जाने की वजह से जहाँ उसके परिजन परेशां हैं तो वहीँ पुलिस के लिए भी यह मामला टेढ़ी खीर साबित हो रहा है।
मामले के सम्बन्ध में जानकारी देते हुवे मणिपुर पुलिस सहायता केंद्र प्रभारी सतीश सोनवानी ने बताया की दर्रीपारा निवासी 22 वर्षीय राहुल दुबे बड़े ठेकेदारों से पेटी ठेका पर काम ले कर कार्य करता था। मंगलवार की सुबह 7 बजे वह अपनी माँ को किसी गाँव जाने की बात कहकर घार से पैदल निकल गया था। काफी देर तक उसके घर नहीं आने और शाम तक युवक के घर वापस नहीं लौटने से परिजन परेशां हो गए। वहीँ युवक का मोबाइल भी बंद आ रहा था जिसके बाद घबराए परिजनों ने जब उसकी कार की तलाशी ली तो उसमें से एक चि_ी मिली। चि_ी में किसी पायल नामक महिला के बारे में लिखा गया था। छुट्टी में लिखा था  की पायल भाभी उसे डरा कर पैसा लेती है और पैसा नहीं देने पर जेल भेजने की धमकी देती है। युवक ने इसके अलावा चि_ी में लिखा था कि वह पैसा देते देते थक गया है इसलिए आज अपने आप को नुक्सान पहुंचाने जा रहा है। जिसके बाद युवक के परिजनों ने रिस्तेदारो शाहत उसके दोस्तों के यहाँ उसकी तलाश की परंतु उसका कही पता नहीं चलने के बाद पूरे मामले की शिकायत मणिपुर पुलिस सहायता केंद्र पुलिस से की। युवक की गुमशुदगी को लेकर युवक के परिजनों ने आरोप लगते हुए बताया की राहुल ने पायल अग्रवाल से 60 हजार रुपये उधार लिया था। उसके ब्याज के रूप में राहुल ने कुछ दिन पूर्व ही 3 लाख रुपये उसे दे दिया था। इसके बाद भी उक्त महिला के द्वारा और ब्याज के लिए परेसान किया जा रहा था। इस मामले को लेकर मणिपुर चौकी पुलिस ने गमशुदगी का मामला दर्ज कर युवक के मोबाइल की काल डिटेल निकलवाकर युवक की पतासाजी शुरू कर दी है। साथ ही पुलिस ने प्राप्त चि_ी के आधार पर महामाया रोड निवासी पायल नामक उक्त महिला से पूछ ताछ भी कर रही है।