छह महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंची कच्चे तेल की कीमत

नई दिल्ली,17 मई (एनपी)। कच्चे तेल की कीमतों में निकट भविष्य में बढ़ोतरी का गोल्डमैन सैक्स का अनुमान एकदम सही साबित हुआ है। मंगलवार को अमेरिकी कच्चे तेल की कीमतें छह महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गईं। सप्लाइ में दिक्कतों के चलते कच्चे तेल की कीमतों में बढ़त का यह दौर देखा गया है। इंटरनैशनल मार्केट में कच्चे तेल के दाम 48.23 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर हैं। छह महीने में कच्चे तेल की यह सबसे अधिक कीमत है। नाइजीरिया, वेनेजुएला एवं अन्य देशों की ओर से दो सप्ताह से सप्लाइ को कम करने, अमेरिकी उत्पादन में कमी और कनाडा के अलबर्टा के जंगलों में आग लगने के चलते कीमतों में यह इजाफा देखने को मिला है।
मंगलवार की सुबह कच्चे तेल के दाम 48.22 डॉलर प्रति बैरल थे, इससे पहले नवंबर में कच्चे तेल की कीमत 48.28 डॉलर थी। ब्रेंट क्रूड फ्यूचर्स के दामों में 28 सेंट की बढ़ोतरी हुई है। इसकी कीमत 49.25 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गई है। ऑइल मार्केट पर नजर रखने वाली संस्था एएनजेड ने कहा, सप्लाइ में बाधाएं उत्पन्न होने के चलते तेल की कीमतों में यह अल्पकालिक वृद्धि देखी जा रही है।
सप्लाइ में रुकावट ने गोल्डमैन सैक्स को भी अपना पूर्वानुमान बदलने को मजबूर करने का काम किया है। अमेरिकी बैंक ने पहले कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट जारी रहने और कीमतों के 20 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंचने की आशंका जताई थी। अब बैंक का अनुमान है कि यूएस क्रूड 2016 के दूसरे हाफ में 50 डॉलर प्रति बैरल तक रहेगा।
सोने-चांदी की कीमतों में भी इजाफा
इसके साथ ही सोने और चांदी की कीमतों में भी बढ़त देखने को मिली है। जून डिलिवरी के लिए गोल्ड की कीमत 0.25 फीसदी की बढ़त 30,039 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर है। वहीं चांदी 0.42 फीसदी की बढ़त के साथ 41159 रुपए प्रति किलो के स्तर पर है।