कर्नाटक में BJP के हाथ से पलटी बाजी, घबराया शेयर बाजार, 450 प्वाइंट टूटा

Sharing it

कर्नाटक में BJP के हाथ से पलटी बाजी, घबराया शेयर बाजार, 450 प्वाइंट टूटा

नई दिल्ली: कर्नाटक चुनावी संग्राम में बीजेपी बहुमत से पिछड़ रही है. ऐसी स्थिति में बीजेपी के हाथ बाजी पलटती देख शेयर बाजार भी घबरा गया है. सेंसेक्स ऊपरी स्तर से 450 प्वाइंट तक टूट गया है. वहीं, निफ्टी भी करीब 120 प्वाइंट फिसल गया. दोनों इंडेक्स लाल निशान में कारोबार कर रहे हैं. फिलहाल, सेंसेक्स 11 प्वाइंट की गिरावट के साथ 35545 के स्तर पर पहुंच गया है. निफ्टी 12 अंक की गिरावट के साथ 10800 के अहम स्तर के नीचे फिसल गया है.

कैसा पलटा बाजार
कुछ समय पहले तक कर्नाटक में बीजेपी ने बहुमत का जादुई आंकड़े छू लिया था, लेकिन धीरे-धीरे सीटों पर आते फैसले से बाजी हाथ से निकलती नजर आ रही है. उधर, कांग्रेस और जेडीएस भी एक साथ मिलकर सरकार बनाने की तैयारी कर रहे हैं. इसी को देख घरेलू शेयर बाजार बुरी तरह टूट गया. सेंसेक्स जहां दिन के ऊपरी स्तर से 450 प्वाइंट टूटकर लाल निशान में पहुंच गया. वहीं, निफ्टी भी करीब 120 अंक फिसलकर 10800 के नीचे पहुंच गया.

बीजेपी को बढ़त से दौड़ा था बाजार
कर्नाटक चुनाव में बीजेपी को बढ़त लेते देख शेयर बाजार ने अच्छी दौड़ लगाई. एक समय पर सेंसेक्स 434 अंक मजबूत होकर 35990 के स्तर तक पहुंच गया. वहीं, निफ्टी 119 अंक मजबूती के साथ 10926 के स्तर पर पहुंच गया था. हालांकि, बाजी पलटती देख बाजार औंधे मुंह गिर गया. मिडकैप शेयरों में दबाव आने से मार्केट ऊपरी स्तर से टूट गया. सेंसेक्स करीब 450 अंक टूटा. वहीं, निफ्टी भी ऊपरी स्तरों से टूटकर 10800 के नीचे फिसल गया. राज्‍य में वोटों की गिनती फिलहाल जारी है. रुझानों में बीजेपी 106 सीटों पर बढ़त है. हालांकि, सुबह यह बढ़त बहुमत के पार निकल गई थी.

मिडकैप की हुई पिटाई
दिन की शुरुआत में मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में अच्छी खरीदारी देखने को मिली थी. लेकिन, कारोबार के दौरान मिडकैप इंडेक्स 1.25 फीसदी की गिरावट आ गई. मिडकैप में गिरावट से बाजार ने अपनी सारी बढ़त गंवा दी. बीएसई का मिडकैप फिसलकर 16131 के स्तर तक पहुंच गया. हालांकि, स्मालकैप इंडेक्स 0.13 फीसदी बढ़त के साथ 17663 के स्तर पर है.

इंडिया विक्स इंडेक्स में सुधार
कर्नाटक में बीजेपी की बढ़त से मार्केट में पॉलिटिकल स्टेबिलिटी का संकेत गया, जिससे निफ्टी पर वोलैटिलिटी इंडेक्स इंडिया विक्स में सुधार देखने को मिला. इंडेक्स 12.44 फीसदी गिर गया. इसमें सुधार का मतलब है कि मार्केट में उतार-चढ़ाव का डर कम हुआ है. हालांकि, बाजार की गिरावट के साथ ही इंडिया विक्स ने भी अपनी सारी बढ़त गंवा दी और महज 4 फीसदी की गिरावट पर कारोबार कर रहा है.